हृदयरोग, सूजन, मुंहासे, मोटापे व संक्रमण से लड़ने में फायदेमंद है गुग्गुल हर्ब का सेवन

329
guggul-benefits-uses
image credits: Urbol

अगर आप मानव के अब तक के ज्ञान में सबसे ज्यादा औषधीय गुण रखने वाली जडीबुटी ढूंढेंगे, तो यह शायद गुग्गुल ही होगी। आयुर्वेद द्वारा सालों से उपयोग होता रहा यह राल जैसा पदार्थ आधुनिक जीवन की कई समस्याएँ भी हल कर सकता है। आइये, गुग्गुल के इन्हीं लाभों को जानें-

 

आपके दिल को सेहतमंद बनाए तथा कोलेस्ट्रोल संतुलित रखे – जानिए हृदयरोग, कैंसर जैसे रोगों में अकाए बेरी के फायदे

गुग्गुल को कोलेस्ट्रोल कम करने के अपने गुण के कारण आयुर्वेद में विशिष्ट स्थान प्राप्त है। आज कई ऐसे शोध भी हमारे सामने हैं जो दिखाते हैं की यह कोलेस्ट्रोल कम करने में बेहद प्रभावी है। इस गोंद के अर्क का सेवन करने से शरीर में कोलेस्ट्रोल का निर्माण कम हो जाता है तथा शरीर से कोलेस्ट्रोल बाहर भी होने लगता है।

 

सूजन कारी रोगों से लड़े तथा जोड़ों के दर्द से मुक्त करे – जानिए शरीर में सूजन के कारणों को और करें यह 6 घरेलू उपचार

गुग्गुल में एक विशेष तत्व होता है, जिसे गुग्गुलस्टेरोन कहा जाता है। यह शरीर में सूजन कम करने के लिए बेहद प्रभावी होता है। आप इसके सूजन विरोधी गुण की तुलना आइबूप्रोफेन जैसी दवाओं से भी कर सकते हैं। यही वजह है की आर्थराइटिस से जूझ रहे कई लोग तकलीफ कम करने के लिए इस हर्बल विकल्प का ही उपयोग करते हैं।

 

आपके लीवर की रक्षा करे – जानिए कैसे बचें फैटी लीवर होने से

गुग्गुल लीवर के रोगों के उपचार में मदद करता है। इसमें मौजूद घटक लीवर में जमी वसा को प्रभावशाली ढंग से खत्म करते हैं तथा इसे फैटी अम्लों के स्तर को कम करते हैं। यह आपके शरीर से बाइल भी बाहर करता है जिससे आपके शरीर की अंदर से सफाई होती है।

 

मुंहासे और झुर्रियों से बचाए – ग्लोइंग स्किन पाने के लिए कीजिए एक हफ्ते का नेचुरल रेमिडी कोर्स

गुग्गुल का अर्क शरीर में कोलेजन का निर्माण बढ़ा देता है। कोलेजन ऐसा तत्व है जो आपकी त्वचा को मजबूती देता है तथा त्वचा को हुए नुकसान की क्षतिपूर्ति कर इसे मुलायम बनाता है। अगर आपको तेलिय त्वचा की समस्या है तो भी यह आपकी मदद कर सकता है।

 

मोटापे से लड़े और मेटाबोलिज्म बेहतर करे –  

गुग्गुल के घटक आपके मेटाबोलिज्म में तेज़ी लाते हैं। यही वजह है की मोटापे से जुडी सभी समस्याओं के नोवरण के लिए गुग्गुल श्रेष्ठ औषधि मानी जाती है। गुग्गुल से आपकी पाचन क्रिया भी बेहतर होती है तथा थाइरोइड की क्रिया सहज हो जाती है। साथ ही इससे आपके रक्त में कोलेस्ट्रोल के स्तर नीचे आने लगते हैं।

 

संक्रमण से लड़े 

गुग्गुल के गुण आपके रक्त में सफ़ेद रक्त कोशिकाओं की गिनती बढ़ा सकती है। इस तरह आपका शरीर विभिन्न संक्रमणों से लड़ने के लिए तैयार हो जाता है। इतना ही नहीं, इन कोशिकाओं की मदद से आप दस्त, उलटी और पेट की बीमारियों के आम कारण माने जाने वाले बैक्टीरिया से भी बच पाते हैं।

 

चोट और छाले ठीक करने में मदद करे 

गुग्गुल आपके मुँह में आने वाले छालों और मसूड़ों के संक्रमण को कम करते हैं। यह इनके सूजन विरोधी गुणों के कारण ही मुमकिन होता है। इतना ही नहीं, अगर आप गुग्गुल की दवा को पानी में मिलाकर अपनी चोटों पर लगाते हैं तो आपके चोट की ठीक होने की रफ्तार भी बढ़ सकती है।