जानिए ग्रीन कॉफ़ी के फायदे

512
Green-Coffee-benefits
image credits: Evolution Slimming

कॉफ़ी एक पौधे कोफ्फ़ा अरेबिका के बीज से बनती है। (green coffee benefits, how to use) इन बीजों में से कॉफ़ी बनाने के लिए उपयुक्त बीजों को चुना जाता है जिन्हें हल्की आंच पर धीमे-धीमे भुना जाता है। फिर इन्हें पीसकर कॉफ़ी का पाउडर तैयार किया जाता है। इस प्रक्रिया में बीजों को भूनने पर कॉफ़ी के प्राकृतिक एंटीऑक्सीडेंट खत्म हो जाते हैं और इस तरह शरीर को नहीं मिल पाते।

 

ग्रीन कॉफ़ी इसी पौधे के बीज होते हैं पर इनसे कॉफ़ी तैयार के पहले इन्हें भुना नहीं जाता। ज़ाहिर है, इनसे बनी कॉफ़ी पीने से आपके शरीर को एंटीऑक्सीडेंट और तरल पदार्थ दोनों ही मिलते हैं। नतीजतन, ग्रीन कॉफ़ी पीने के कई फायदे होते हैं, जिनमें से प्रमुख इस प्रकार है-

 

मेटाबोलिज्म सुधारे-

इन कॉफ़ी बीन्स से मिलने वाला क्लोरोगेनिक अम्ल मेटाबोलिज्म को बेहतर बनाने के लिए जाना जाता है। ये आपका BMR बढाता है जिससे लीवर से रक्त तक पहुँचने वाला ग्लूकोस कम होता है। ऐसा होने पर शरीर जमी वसा से ग्लूकोस बनाने लगता है। नतीजतन ग्रीन कॉफ़ी आपका वजन घटाने में मदद करेगी।

 

भूख घटाए-

अगर आपको बार=बार भूख लगती है जिसकी वजह से वजन बढ़ रहा है तो ग्रीन कॉफ़ी आपकी मदद कर सकती है। ये भूख दबाने में बहुत प्रभावकारी है इसलिए बार-बार उठने वाली खाने की तलब को कम कर ज्यादा खा लेने से रोकती है। इस तरह शरीर भी वसा से उर्जा बनाने लगता है।

 

मधुमेह का उपचार-

कई मामलों में ग्रीन कॉफ़ी से टाइप-2 डायबिटीज के सफल उपचार देखा गया है। इनका अर्क हमारे रक्त में पहुँचने वाले शक्कर के स्तर को कम करता है और वजन घटने की प्रक्रिया को भी बढाता है। ये दोनों ही लाभ टाइप-2 मधुमेह के उपचार में मदद करते हैं।

 

रक्त संचार बढाए-

उच्च रक्तचाप हमें स्ट्रोक, हार्टअटैक, किडनी फेलियर जैसी समस्याओं का रोगी बना देता है। पर शोधकर्ताओं ने पाया की ग्रीन कॉफ़ी में एस्पिरिन जैसे घटक होने की वजह से रक्त वाहिकाओं को कड़क होने से बचाया जा सकता है। नसें कडक नहीं होंगी तो आपके शरीर में रक्त संचार भी बेहतर होगा।

 

प्राकृतिक डेटोक्स –

ग्रीन कॉफ़ी प्राकृतिक डेटोक्स थेरेपी है। ये हमारे लीवर को साफ़ कर इसे विषेले तत्वों, कोलेस्ट्रोल, अवांछित वसा आदि से मुक्त करता है। जैसे-जैसे लीवर डेटोक्स होता है, ये बेहतर ढंग से कार्य करना शुरू कर देता है जिससे मेटाबोलिज्म बेहतर हो जाता है और हमारी सम्पूर्ण सेहत बेहतर हो जाती है।

 

उर्जा बढाए-

ग्रीन कॉफ़ी में भरपूर कैफीन होता है इसलिए इनका सेवन एनर्जी बूस्टर की तरह किया जा सकता है। दिन भर में जब भी आप काम के बीच थकान महसूस करें तो एक कप ग्रीन कॉफ़ी ज़रूर लें। ऐसा करने से आपकी उर्जा का स्तर बेहतर हो जाएगा और आप पुरे दिन सक्रीय रहेंगे।

 

त्वचा खुबसुरत बनाए-

ग्रीन कॉफ़ी सामान्य ग्रीन टी के मुकाबले फ्री रेडिकल को 10 गुना बेहतर तरीके से खत्म करती है। इसी तरह ये आपके शरीर को अंदर से साफ़ करती है और बेहतर रोग प्रतिरोधक क्षमता देती है। इसके अलावा ग्रीन कॉफ़ी में भरपूर फैटी अम्ल भी होते हैं जो त्वचा को मॉइस्चराइज करते हैं।  इन सभी लाभों की वजह से आपकी त्वचा खुबसुरत होती जाती है और आपके चेहरे पर बढती उम्र के निशान कम नजर आते हैं।

 

चमकदार बाल दे-

ग्रीन कॉफ़ी में मिलने वाले एंटीऑक्सीडेंट शरीर के हर उस कारक से लड़ते हैं जो शरीर को विषाक्त करता है या नुकसान पहुँचाता है। इस तरह आपके बाल मज़बूत, स्वस्थ और खुबसुरत बनते हैं। इतना ही नहीं, इन बीन्स के अर्क से बालों का विकास भी तेज़ होता है तथा गंजेपन से छुटकारा मिलता है।