आलू के स्वास्थ्य लाभ, जी हां आपने सही पढ़ा, जानिए कैसे

382
potatoes
image credits: Medical News Today

आलू ऐसे आहार की श्रेणी में आता है जिसे खाना लगभग हर किसी को पसंद है लेकिन जिसके दुष्प्रभावों की चिंता के कारण कोई पूरा आनन्द नहीं ले पाता। पर इस किफायती, आसानी से उगने वाले और हर भोजन के साथी सब्ज़ी को नुकसानदायक मानकर पूरी तरह त्याग देना भी समझदारी नहीं है।

 

आइये जानते हैं आलू के सेवन से आप किन लाभों को पा सकते हैं-

 

पोषण से भरपूर 

एक सामान्य आकार के उबले हुए आलू में आप 161 कैलोरीज, 0.2 ग्राम वसा, 4.3 ग्राम प्रोटीन, 36.6 ग्राम कार्ब्स, 3.8 ग्राम फाइबर के साथ विटामिन C, B6, पोटैशियम, मैंगनीज, मैग्नीशियम, फॉस्फोरस, नियासिन, फोलेट आदि पोषक तत्व पाते हैं। उच्च गुणवत्ता के आलू आपको और भी ज्यादा पोषण दे सकते हैं। साथ ही आलू में छिलके में भरपूर पोषण मौजूद होता है।

 

एंटीऑक्सीडेंट 

आलू फ्लावोनोइड, कारोटेनोइड और फेनोलिक अम्ल से भरपूर होते हैं। ये तत्व आपके शरीर में एंटीऑक्सीडेंट का काम करते हैं तथा आपको फ्री रेडिकल के खतरनाक प्रभाव से बचाते हैं। इस तरह आलू आपको ह्रदय रोग, मधुमेह और कैंसर से बचा सकते हैं।

 

रक्त में शक्कर की मात्रा नियंत्रित करे 

आलू रेसिस्टेंट स्टार्च से भरपूर होता है। यह स्टार्च शरीर में पूरी तरह घटित नहीं होता इसलिए शरीर इसे अवशोषित नहीं कर पाता। इस तरह यह तत्व आपको कई तरह के लाभ देते हैं जिसमें रक्त में शक्कर की मात्रा नियंत्रित करना भी शामिल है। अगर आपके रक्त में शक्कर के स्तर में उतार चढ़ाव आता रहता है तो आलू का सेवन आपकी मदद कर सकता है।

 

पाचन बेहतर करे 

आलू में मौजूद रेसिस्टेंट स्टार्च जब बड़ी आँतों में पहुँचता है तो यह यहाँ मौजूद हितकारी बैक्टीरिया के लिए मददगार होता है। बैक्टीरिया इस तत्व से अपना आहार बनाते हैं और विकसित होते हैं। देखा जाता है की बैक्टीरिया की बढ़ी हुई तादाद आँतों में सूजन कम करती है तथा आँतों को कैंसर व् अन्य बिमारियों से बचाता है।

 

प्राकृतिक रूप से ग्लूटेन फ्री 

दुनिया भर में ग्लूटेन मुक्त आहार लेने का ट्रेंड तेज़ी से बढ़ रहा है। ज्यादातर लोगों में इस तत्व से कोई असर नहीं दिखता लेकिन कुछ लोग इसके प्रति सम्वेदनशील होते हैं तथा दस्त, पेट दर्द, पेट फूलना आदि समस्याएँ महसूस करते हैं।

ग्लूटेन मुक्त डाइट में आलू का विशेष स्थान हो सकता है। ये प्राकृतिक रूप से ग्लूटेन मुक्त होते हैं तथा किसी भी पाकविधि का आसानी से हिस्सा बन सकते हैं।

 

पेट भरे 

आलू पोषण के साथ आपको संतुष्टि भी दे सकता है। देखा जाता है की जिन आहारों का सेवन आपको संतुष्टि देता है वे आपको अत्यधिक भूख से बचाकर वज़न बढने की समस्या से मुक्त कर सकते हैं। इस तरह आलू आपको मोटा नहीं करता बल्कि मोटापे से बचाता है।

 

विविधता से भरपूर 

आलू एक स्वादिष्ट और विविधता से भरपूर सब्जी है। इसे आप कई तरह से बना सकते हैं- उबालकर, भाप देकर या आंच पे सेककर। इतना ही नहीं इसे किसी भी विधि का हिस्सा बनाया जा सकता है तथा स्वाद में बढ़ोतरी की जा सकती है। लेकिन सावधान रहें, किसी तली जाने वाली विधि में आलू का उपयोग तेल के अवशोषण को बढ़ा सकता है।

 

तो जैसा आपने जाना, आलू एक हितकारी सब्जी है जो आपके व्यंजन को स्वादिष्ट बना सकती है। मुश्किल सिर्फ तब होती है जब हम अत्यधिक तले, मसालेदार और नमक से भरपूर व्यंजन को आहार में प्राथमिकता देने लगते हैं।