मानसून में कपड़े सुखाने का बेहतर तरीका अपनाएं

430
drying-clothes-monsoon
image credits: youtube.com

बरसते पानी और हवा में नमी बढने से कपड़े सुखाने में लगने वाला समय भी बढ़ जाता है। (how to dry clothes in rainy weather, monsoon season in hindi) पर समस्या सिर्फ यही खत्म नहीं होती, कपड़े धुप न लगने के कारण पूरी तरह सूखते नहीं जिसकी वजह से इनमें बदबू आने लगती है तथा फफूंद तक पड़ जाती है। यह सभी चीज़ें आपकी तथा आपके परिवार की सेहत पर बुरा असर डाल सकती है। यह समस्याएँ और भी बढ़ जाती है अगर आपके पास कपड़े सुखाने के लिए खुली जगह न हो। इन सभी वजहों से सांस लेने में तकलीफ हो सकती है, साइनोसाइटिस, एलर्जी और निमोनिया तक हो सकता है।

 

यह सभी वजहों से बारिश में कपड़े सुखाने की प्रक्रिया को बदलने की ज़रूरत है-

 

हेंगर का उपयोग करें 

कपड़ों को जल्द सुखाने का यह एक प्रभावी तरीका है। इस तरह आपके कपड़ों को जगह भी कम लगेगी तथा अपने पसंद की जगह पर सुखाने में आसान भी रहेगे। आप इसे और भी आसान बनाने के लिए क्लिप्स वाले हेंगर खरीद सकते हैं।

अगर आपके घर में जगह है तो आप कपड़े सुखाने के लिए ड्रायर स्टैंड भी ले सकते हैं। ये खासकर कपड़े सुखाने के लिए ही बनाई जाती है तथा आसानी से उपयोग की जा सकती है।

 

पहले कपड़ों का पानी निकलने दें 

अगर आप कपड़े अंदर सुखाने वाले हैं तो पहले इनमें से पानी को पूरी तरह निचोड़ लें तथा बाथरूम में पानी को पूरी तरह टपकने दें। इस तरह कमरे में सुखाने के पहले ही इनका ज्यादातर पानी निकल जाएगा। फिर इन्हें हेंगर में फसा कर पंखे के नीचे सुखाएं। साथ ही खिडकियों को खुला रखें ताकि साफ़ हवा अंदर आती रहे।

अगर आप वाशिंग मशीन के ड्रायर का उपयोग करते हैं तो कपड़ों को ड्रायर में दो बार सुखाने के बाद ही कमरे में फैलाएँ।

 

बदबू से प्राकृतिक रूप से निपटें 

अगर लम्बे समय तक कपड़े गीले रहते हैं तो इनमें से बदबू आना स्वाभाविक है। इससे बचने के लिए कपड़ों को गीला कभी न छोड़ें, न ही लम्बे समय तक पानी में भिगो कर रखें। इन्हें पंखे के नीचे फैलाएँ तथा कमरे में धुप जलाएं। ध्यान रखें की धुप कपड़ों के नजदीक न हो। इससे उठने वाला धुआं कपड़ो को सुखाने में भी मदद करेगा तथा इन्हें खुशबू भी देगा।

 

कमरे में नमी का स्तर कम करे 

कपड़ों को जल्द सुखाने और कमरे में नमी न बढने देने के लिए कमरे में नमक रखें। यह कमरे की नमी सोखता है, खुद गीला होता जाता है तथा कमरे की नमी नियंत्रित रख सकता है। साथ ही यह कमरे में फफूंद पैदा होने की संभावना भी कम करेगा।

 

धूप का समय पकड़ें 

कपड़े सुखाने में धूप का कोई सानी नहीं। यह सिर्फ पानी ही नहीं सुखाती, बल्कि कपड़ों को पूरी तरह साफ़ करती है तथा संक्रमण से मुक्त कर देती है। इसलिए जब भी धूप खिले, घर के गीले और सूखे कपड़ों को धूप ज़रूर दिखाएँ। साथ ही घर की खिड़कियाँ खोल दें ताकि घर की नमी कम हो जाए। सूर्य की पराबैगनी किरणें प्राकृतिक डिसइन्फेक्टेंट भी होती हैं और आपके घर को बीमारियों से मुक्त रख सकती है।