मकर सक्रांति पर बनाएं, बांटे व खाएं तिल के लड्डू

125
TIL-KE-LADDU
image credits: HimBuds.com

मकर संक्रांति में अक्सर मराठी के वाक्य- “तिल गुड घ्या नी गोड गोड बोला” कहकर तिल के लड्डू खिलाए जाते हैं। (til ke laddu banane ki recipe in hindi) इस वाक्य का अर्थ है “तिल और गुड़ खाओ और मीठा-मीठा बोलो”। अलग-अलग प्रांत में अलग तरह से मनाए जाने वाले और मीठे वचनों की सीख देते इस त्यौहार में तिल के लड्डू का खास महत्व होता है। ऐसा क्यूँ है, आइये जानें-

 

तिल के लड्डू का महत्व-

मकर संक्रांति के आस-पास ही तिल की फसल काटी जाती है तथा इस त्यौहार पर ईश्वर को अर्पण की जाती है। मान्यता है की तिल को यमदेव से वरदान प्राप्त है की इसका सेवन करने वाले को जल्द मृत्यु का भय नहीं रहेगा। पर इसका स्वास्थ्य की दृष्टि से भी महत्व है।

तिल विटामिन्स, मिनरल्स और सेहत्वर्धक तेलों से भरपूर होता है। इसमें कैल्शियम, आयरन, मैग्नीशियम, फोस्फोरिस, मैंगनीज, कॉपर, जिंक, फाइबर, थायमिन, फोलेट और प्रोटीन होता है। इसलिए तिल को लड्डुओं को अच्छी तरह चबा कर खाने से ज़रूरी पोषण मिलता है. जिससे दिमाग तेज़ होता है, आँखें तेज़ होती है, शरीर बलिष्ठ होता है, बाल खुबसुरत बनते हैं तथा चेहरे पर तेज आता है।

 

तो इस साल मकर संक्रान्ति को आप भी इन बहुगुणी लड्डुओं के द्वारा मनाकर जीवन में मीठास ले आएं। कैसे? आइये, तिल के लड्डुओं की पाकविधि जानें-

 

सामग्री-

1 1/4 कप तिल

1 चम्मच घी

1 1/4 कप गुड का चुरा

1/4 कप भुनी व् सिकी मूंगफली

1/2 चम्मच इलायची पाउडर

 

विधि-

एक नॉन-स्टिक बर्तन को गर्म करें। इसमें तिल डालें और धीमी आंच पर लगातार चलाते हुए सेकें। 10 मिनट के अंदर आपके तिल अच्छी तरह सिक जाएंगे; इन्हें आंच से हटाकर अलग रख दें। अब एक बर्तन में घी डालें व् गुड़ मिला दें। धीमी आंच में इस मिश्रण को 5 मिनट तक पकने दें , इस दौरान लगतार मिश्रण को चम्मच की मदद से चलाते रहें। अब इसमें सिकी तिल, इलायची व् सिकी मूंगफली भी डालें और अच्छी तरह मिलाएं। इसे 2 मिनट तक और पकाएं। अब एक थाली में थोड़ा तेल लगाकर मिश्रण के हिस्सों को निकालें। इनके हल्का ठंडा होने पर गीले हाथों से थोडा-थोडा हिस्सा लें व् लड्डू बनाएं। ध्यान रखें की मिश्रण पूरा ठंडा होने पर ठोस होने लगेगा इसलिए आपको जल्दी ही लड्डू बनाने होंगे। इस तरह पुरे मिश्रण के लड्डू बनाते जाएं। इन्हें ठंडा कर हवाबंद डब्बों में रखें मेहमानों को लड्डू परोसकर संक्रांति का उत्सव मनाएं।